Agriculture business idea : शुरू करें शतावरी की खेती से जुडा यह बिजनेस, होगी खूब कमाई, जाने कैसे करे ?

0
25
shatavari

कोरोना महामारी के पश्चात लोग धीरे-धीरे अपना बिजनेस प्रारंभ करने की और अग्रसर हो रहे हैं|  कई लोगों का झुकाव बिज़नेस की और है|  लोग गांव में अपने घरों में रहकर आधुनिक कृषि करने का विचार कर रहे हैं और इसी के माध्यम से अपने लिए कमाई का रास्ता बनाना चाहते है |  आजकल लोग औषधीय पौधों की कृषि करना चाहते हैं|  अगर आप भी किसी ऐसी ही कृषि को करना चाहते हैं व अच्छा पैसा कमाना चाहते हैं तो हम आज आपको एक ऐसी ही कृषि के बारे में जानकारी देने वाले हैं| 

 आज हम आपको शतावरी खेती के बारे में बताने वाले हैं|  इसकी मदद से आप बहुत अच्छी कमाई कर सकते हैं| 

जाने क्या है शतावरी

शतावरी एक प्रकार का औषधीय गुणों से युक्त पौधा है|  इसका शाब्दिक अर्थ पत्तों वाले पौधे से है |  इसका उपयोग अनेक प्रकार की दवाओं को बनाने में भी किया जाता है इसका पौधा अनेक औषधीय गुणों से युक्त होता है| 

यह है उपयुक्त जलवायु और मिट्टी

सतावर की खेती के लिए सबसे अधिक उपयुक्त लेटराइट लाल दोमट मृदा होती है|  इस मिट्टी में जल निकासी की उचित व्यवस्था होती है इसलिए यह इस कृषि के लिए सबसे उपयुक्त होती है|  इसके अतिरिक्त शतावरी की खेती को उष्ण कटिबंध व शीतोष्ण पर्वतीय  क्षेत्रो में भी किया जा सकता है| 

ऐसे करें खेत को तैयार और फसल की रोपाई

शतावरी की खेती को करने के लिए सबसे उपयुक्त जुलाई का महीना होता है|  इसी महीने में आप शतावरी की खेती के लिए खेत को तैयार कर सकते हैं | आप शतावरी की खेती को करने के लिए बीजो की बुवाई के स्थान पर छोटे पौधों को प्राथमिकता दें क्योंकि छोटे पौधे लगाने से शतावरी की फसल अच्छी तैयार होती है| 

ऐसे करें खरपतवार नियंत्रण

शतावरी की फसल जैसे जैसे बढ़ती है वैसे वैसे आपको इसमें से नियमित रूप से खरपतवार को निकालते रहना चाहिए|  खरपतवार को निकालते समय हमें एक बात का बहुत ध्यान रखना होता है की फसल को कोई नुकसान ना हो  क्योंकि फसल लताओं युक्त होती है| 

कितने समय में होती है फसल तैयार

शतावरी की फसल को तैयार होने में लगभग 18 महीनों का समय लग जाता है| 

बुवाई से 18 महीना के बाद हमें इस फसल की गिली जड़ प्राप्त हो जाती है| 

यहा बेची जा सकती है अपनी फसल 

आप अपनी फसल को बड़े बाज़ारो जैसे कि दिल्ली, बनारस, लखनऊ, कानपुर ,हरिद्वार जैसे शहरों में बेच सकते हैं इसके अलावा आप अपनी फसल को सीधे आयुर्वेदिक दवा कंपनियों से संपर्क कर उन्हें भी बेच सकते हैं| 

कितनी होगी कमाई व कितना कमा सकेंगे लाभ 

यदि आप अपनी फसलों को बाजार में बेचते हैं तो आप 10 क्विंटल फसल पर ₹300000 तक की कमाई कर सकते हैं| 

यदि आप अपनी फसलों को डायरेक्ट आयुर्वेदिक कंपनियों में बेचते हैं तो आप अधिक कमाई कर सकते है | 

यह भी पढ़े : लहसुन की खेती कराएगी मोटा मुनाफा 6 महीने में हो सकती है मोटी कमाई यह है पूरा प्रोसेस

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here