Agriculture business Idea : कम लागत में शुरू करें तुलसी की खेती, होगी खूब कमाई ,जाने कैसे शुरू कर सकते हैं?

0
30
Tulsi ki kheti

भारत में हिन्दू रीति-रिवाजों के अनुसार तुलसी का पौधा एक पूजनीय पौधा होता है इसे सामान्यतः हिंदू धर्म में लगभग सभी लोगों के द्वारा अपने घरों में लगाया जाता है|  इस पौधे का एक विशेष गुण है कि यह पौधा रात के समय में भी ऑक्सीजन उत्सर्जित करता है|  इस पौधे का प्रत्येक भाग औषधीय गुणों से युक्त होता है|  इसे व्यापक तौर पर भी उगाया जाता है व इसकी व्यापारिक तौर पर बड़े रूप में खेती करके बहुत अच्छा लाभ कमाया जा सकता है|  बहुत अधिक लोगों के द्वारा इसे व्यापक रूप में उगाकर व बेचकर बहुत अधिक लाभ कमाया जा रहा है|  हम आज  आपको बताने वाले हैं कि आप इसकी खेती को किस तरह शुरू कर सकते है। ….

जाने तुलसी के फायदे

क्या आप जानते हैं कि तुलसी के पौधे से आपको बहुत प्रकार के फायदे होते हैं आइए हम इसके सभी फायदों को जानते हैं:-

*) तुलसी के पौधे से साधारण बुखार, कफ और गले के इंफेक्शन को दूर किया जा सकता है| 

*) तुलसी के पत्ते का नियमित सेवन आपके हृदय को स्वस्थ रखता है | 

*) यदि आप अपने घर के आंगन में तुलसी के पौधे को लगाते हैं तो आपके घर के वातावरण में एक विशेष प्रकार की सकारात्मकता का अनुभव किया जा सकता है| 

*) तुलसी के पौधे पत्तियों का नियमित सेवन रक्त में शर्करा को निश्चित मात्रा में बनाए रखता है| 

तुलसी की खेती के लिए आवश्यक जलवायु

 तुलसी के पौधे को आप लगभग हर प्रकार की जलवायु में उगा सकते हैं परंतु इस पौधे की खास बात यह है कि यह पौधा उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में अधिक तेजी से बढ़ता है|  इस पौधे को गर्म जलवायु वाले क्षेत्र में उगाकर बहुत अच्छा लाभ कमाया जा सकता है | इस पौधे को आप ऐसे क्षेत्र में बहुत ही आसानी से उगा सकते हैं जहां पर दिन के समय पर्याप्त धूप रहती है| 

जाने तुलसी के प्रकारों के बारे में

*) सामान्यतः दो प्रकार की तुलसी होती है एक प्रकार की तुलसी वह होती है जो गहरे नील रंग के पत्तो वली होती है जिसमें नीले रंग के फूल लगते हैं|  इस प्रकार की तुलसी को कृष्ण तुलसी कहा जाता है| 

*) एक अन्य प्रकार की तुलसी भी होती है जिसमें हरे रंग के पत्ते होते हैं और काले रंग की मंजरी होती है इस तुलसी को राम तुलसी कहा जाता है

ऐसे करें तुलसी की खेती के लिए मृदा तैयार

*) तुलसी के पौधे को ऐसी मिटटी में उगाया जा सकता है जिसमें जल निकासी की अच्छी व्यवस्था हो|  तुलसी का पौधा सामान्यतः क्षारीय और कम लवण वाली मृदा में बहुत ही आसानी से उग जाता है| 

*) तुलसी की कृषि को प्रारंभ करने के लिए आपको सबसे पहले अपने खेत को तैयार करना होता है इसके लिए आपको अपने खेत की अच्छे से जुताई करनी होती है| 

*) इसके अलावा तुलसी की फसल को नर्सरी में तैयार किया जाता है उसके पश्चात आप पौधों को खेत में लगाते हैं| 

ऐसे करें तुलसी की खेती होगा बहुत लाभ

खेतों की जुताई करना

तुलसी की खेती का सबसे प्रथम चरण यह हैं कि आप अपने खेतों की अच्छी तरह से जुताई करें क्योंकि खेतों की जुताई सही ढंग से नहीं किए जाने पर आपका उत्पादन भी निश्चित रूप से प्रभावित होगा| 

पौधे तैयार करना

तुलसी की खेती के लिए आप तुलसी के पौधों को नर्सरी में तैयार करें| तुलसी के पौधों को आपको नर्सरी में ही तैयार करना चाहिए क्योंकि नर्सरी में तुलसी के पौधे रोग मुक्त हो जाते हैं| 

खेत में रोपाई 

तुलसी की खेती में रोपाई अगला मुख्य चरण होता है|  रोपाई करते समय आपको दो लाइनों के बीच की दूरी 45 सेंटीमीटर तक रखना चाहिए व पौधे से पौधे की बीच की दूरी कम से कम 20 से 25 सेंटीमीटर तक रखना चाहिए| 

सिंचाई

तुलसी की खेती को प्रारंभ करने के लिए नियमित रूप से सिंचाई करना होती है|  समय के अनुसार नियमित रूप से सिंचाई करने पर ही आपको अधिक लाभ होगा| 

किना करना होगा निवेश 

यदि आप एक किसान है तो आप तुलसी की खेती को बहुत ही आसानी से प्रारंभ कर सकते हैं | इस खेती को प्रारंभ करने के लिए आपको शुरुआत में 15,000 रुपये से ₹20000 की लागत आती है इसके अलावा आप निंदाई ,सिंचाई ,खरपतवारो के नियंत्रण आदि में भी कुछ खर्च कर सकते हैं| 

कितना कमा सकते हैं मुनाफा

आप तुलसी को दो तरह से बेच कर बहुत अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं | आप तुलसी के बीजों को बेच सकते हैं व आप इसके तेल को बेचकर भी बहुत अच्छा लाभ कमा सकते हैं| 

एक हेक्टेयर क्षेत्र से आप लगभग डेढ़ सौ किलोग्राम बीज प्राप्त कर सकते हैं| 

इस तरह आप तुलसी के पत्तों ,बीज आदि को बाजार में बेचकर 1 हेक्टेयर से लगभग 2 से ढाई लाख रुपये आसानी से कमा सकते हैं| 

यह भी पढ़े : – शुरू करें कृषि से जुडे ये सहायक व्यवसाय होगी खूब कमाई , जाने आप कैसे शुरू कर सकते हैं?

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here