Business idea: सरकार की मदद से शुरू करें मेडिकल खोलने का यह बिजनेस होगी खूब कमाई , जाने सारी डिटेल

0
29
मेडिकल business

यदि आप अपनी नौकरी को छोड़कर कोई बिजनेस करना चाहते हैं तो हम आपको आज एक बहुत ही अच्छे बिजनेस आइडिया के बारे में बताने वाले हैं|  जिसे आप सरकार की मदद से शुरू कर सकते हैं व बहुत अच्छी कमाई कर सकते हैं| 

 आज हम आपको जन औषधि केंद्र  (मेडिकल स्टोर) खोलने के बिजनेस के बारे में बताने वाले हैं|  इससे आप बहुत अच्छी कमाई हर महीने कर सकते है | 

क्या है जन औषधि केंद्र का बिजनेस

आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता रहे हैं कि मोदी सरकार ने वर्ष 2024 तक प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्रों की संख्या को बढ़ाकर 10000 करने का निर्णय लिया है|  वहीं वर्तमान समय में इनकी संख्या 8000 से अधिक हो गई है|  इन केंद्रों पर विभिन्न प्रकार की दवाई कम कीमतों पर उपलब्ध कराई जाती है|  ऐसे में आप अपना जन औषधि केंद्र खोलकर बहुत अच्छी कमाई कर सकते हैं| जन औषधि केंद्रों को खोलने के लिए सरकार देश भर में लोगों को प्रोत्साहित कर रही है

कौन कौन खोल सकता है जन औषधि केंद्र

जन औषधि केंद्रों को खोलने के लिए सरकार ने तीन प्रकार की केटेगरी बनाई है|  पहली केटेगरी में कोई भी व्यक्ति जो बेरोजगार फार्मासिस्ट हो, कोई भी डॉक्टर हो या  पंजीकृत मेडिकल प्रैक्टिशनर हो वह इन केंद्रों के लिए अप्लाई कर सकता है| 

 दूसरी कैटेगरी के तहत कोई ट्रस्ट, एनजीओ, प्राइवेट हॉस्पिटल या स्वयं सहायता समूह इसे खोल सकता है | तीसरी केटेगरी में राज्य की ओर से nominate की गई एजेंसी आती है| 

कैसे कर सकते हैं अप्लाई

यदि आप भी मोदी सरकार की इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं व जन औषधि केंद्र के लिए अप्लाई करना चाहते हैं तो आप इस वेबसाइट https://janaushadhi.gov.in/ से फार्म डाउनलोड कर सकते हैं|  फार्म को अच्छी तरह से भरने के पश्चात आपको इससे ब्यूरो ऑफ फार्मा पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग ऑफ इंडिया के जनरल मैनेजर के नाम से भेजना होगा| 

इस तरह से होगी कमाई

अब हम आपको यह बता देते हैं कि यदि आप जन औषधि केंद्र को ओपन करते हैं तो आप की कमाई किस प्रकार होगी?

 जन औषधि केंद्रों पर बिकने वाली सभी दवाइयों का 20% मार्जिन दुकान चलाने वाले को मिलेगा|  इसके अलावा आपको नॉर्मल और स्पेशल इंसेंटिव भी दिया जाएगा|  नॉर्मल इंसेंटिव में उस खर्च को शामिल किया जाएगा जो आपने दुकान को खोलने में लगाया है|  यह सभी खर्च आप को सरकार की ओर से वापस कर दिया जाएगा| 

इस इंसेंटिव में दुकान में फर्नीचर पर आने वाला डेढ़ लाख रुपए तक का खर्च, कंप्यूटर, फ्रिज पर खर्च होने वाले ₹50000 के खर्च को शामिल किया जाता है|  यह सभी खर्च आपको मंथली बेसिस पर वापस कर दिया जाता है |

यह भी पढ़े :-फ्री में शुरू करें यह बिजनेस खूब बरसेगा पैसा

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here