Franchise Business idea: ₹10000 लगाकर शुरू करें यह बिजनेस होगी हर महीने ₹50000 तक कमाए

0
62
Franchise business idea

Pollution testing centre franchise business

केंद्र सरकार ने जब से मोटर व्हीकल एक्ट को लागू किया है तब से अभी तक प्रदूषण जांच केंद्र का बिजनेस तेजी से बढ़ रहा है| नये  मोटर व्हीकल एक्ट के तहत सरकार ने मोटे जुर्माने का प्रावधान किया है|  वर्तमान समय में यदि आप कोई भी वाहन ड्राइव कर रहे हैं तो आपको पॉल्यूशन सर्टिफिकेट की जरूरत पड़ती है|  यदि आपके पास पॉल्यूशन सर्टिफिकेट नहीं होता है तो आपको अधिकतम ₹10000 तक का जुर्माना देना पड़ सकता है|  हर छोटे-बड़े वाहनों के लिए पॉल्यूशन टेस्ट आवश्यक होता है ऐसे में यदि आप अपना कोई बिजनेस प्रारंभ करना चाहते हैं तो आप आसानी से पॉल्यूशन टेस्टिंग सेंटर को प्रारंभ कर सकते हैं व अच्छी कमाई कर सकते हैं| 

यदि आप पॉल्यूशन टेस्टिंग सेंटर के बिजनेस को प्रारंभ करते हैं तो इस बिजनेस की मदद से आप आसानी से ₹50000 तक कमा सकते हैं|  इस बिजनेस को प्रारंभ करने के लिए आपको केवल ₹10000 इन्वेस्ट करने होंगे|  इसके पश्चात आप अपना प्रदूषण जांच केंद्र आसानी से शुरू कर पाएंगे|  इसमें आपकी कमाई पहले ही दिन से शुरू हो जाएगी|  एक अनुमान के तौर पर इससे आप 1000  से ₹2000 प्रतिदिन कमा सकते हैं|  इस प्रकार आप हर महीने 30 से 40,000 रुपए आसानी से कमा सकेंगे|

प्रदूषण जांच केंद्र को खोलने के लिए क्या है शर्तें

देश का कोई भी नागरिक फर्म सोसायटी या ट्रस्ट इसे ओपन कर सकते हैं

प्रदूषण जांच केंद्र को पीले रंग के केबिन में ही खोला जा सकता है

केविन की लंबाई 2 मीटर, चौड़ाई 2 मीटर, ऊंचाई 2 मीटर होनी चाहिए|

प्रदूषण जांच केंद्र पर लाइसेंस नंबर लिखा होना आवश्यक है|

खोलने के लिए क्या है आवश्यक दस्तावेज

यदि आप प्रदूषण जांच केंद्र खोलना चाहते हैं तो आपके पास ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग, मोटर मैकेनिकल , ऑटो मैकेनिक्स, स्कूटर मैकेनिकल , डिजिटल मैकेनिकल , इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट (आईटीआई) का  सर्टिफिकेट होना चाहिए|  इसके अलावा प्रदूषण जांच केंद्र को प्रारंभ करना चाहते हैं तो आपके पास अपना निजी कंप्यूटर, यूएसबी वेब कैमरा, इंकजेट प्रिंटर, पावर सप्लाई ,इंटरनेट कनेक्शन आदि होना आवश्यक है| 

क्या है नियम और शर्तें

यदि आप पॉल्यूशन टेस्टिंग सेंटर को खोलना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कुछ नियम व शर्तों को फॉलो करना होगा जैसे कि आपको किसी गाड़ी के पॉल्यूशन चेक करने पर प्रिंटेड सर्टिफिकेट देना होगा{  सर्टिफिकेट में सरकारी स्टीकर लगा होना आवश्यक है|  इसके अलावा आपके पॉल्यूशन टेस्टिंग सेंटर को जांच की हुई सभी गाड़ियों की डिटेल से 1 साल तक अपने सिस्टम में रखना होगी|  पॉल्यूशन जांच केंद्र को ऑपरेट करने का अधिकार उसी व्यक्ति के पास होगा जिसके नाम पर लाइसेंस है|  अन्य किसी के द्वारा सेंटर को ऑपरेट करने पर कार्यवाही की जा सकती है| 

Pollution testing centre खोलने के लिए कैसे करें अप्लाई

यदि आप पॉल्यूशन टेस्टिंग सेंटर को ओपन करना चाहते हैं तो आप निम्न चरणों को फॉलो करके इसे आप आसानी से खोल सकेंगे

*)यदि आप प्रदूषण जांच केंद्र को खोलना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको इसके लिए रीजनल ट्रांसपोर्ट ऑफीसर (आरटीओ) से लाइसेंस लेना होगा

*)इसके लिए आप नजदीकी आरटीओ ऑफिस में अप्लाई कर सकते हैं

*)प्रदूषण जांच केंद्र को आप कहीं भी पेट्रोल पंप ऑटोमोबाइल वर्कशॉप के आसपास खोल सकते हैं

*)अप्लाई करते समय आपको ₹10 का एफिडेविट देना होगा

*)एफिडेविट में आपको टर्म एंड कंडीशन का उल्लेख भी करना है

*)लोकल अथॉरिटी से आपको नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट लेना होगा

*)कुछ राज्यों में आप इसके लिए ऑनलाइन भी अप्लाई कर सकते हैं

*)ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए आपको इस लिंक पर जाकर रजिस्टर करना होगा

यह भी पढ़े :- फ्री में शुरू करें यह बिजनेस खूब बरसेगा पैसा :small business idea

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here